वडोदरा: गुजरात में नाव पलटने से 14 बच्चों समेत 16 की मौत, 11 हुए घायल जानें पूरी ख़बर को विस्तार से…

गुजरात के वडोदरा से एक बहुत बड़ी खबर है यहां हिरणी लेक में एक नाव पलट गई है जिसमे 23 बच्चों के साथ 4 टीचर मौजूद थे। नाव में सवार 14 बच्चों और 2 शिक्षक की मौत हो गई है और 11 घायल हुए हैं।

Image credit: X/ANI

वडोदरा: गुजरात में वडोदरा शहर की हिरणी लेक में में गुरुवार को एक नाव पलट गई नाव में 23 बच्चों के साथ 4 शिक्षक थे मौजूद। वह अब लेक में पिकनिक पर गए हुए थे। यह पिकनिक स्कूल के द्वारा संचालित की गई थी।

बच्चों ने नहीं पहने हुए थे लाइफ जैकेट

नाव पर सवार बच्चों में केवल 10 लोगों के पास था लाइफ जैकेट जो कि आयोजकों की बड़ी लापरवाही नज़र आ रही है। यह भी सामने आ रहा है कि नाव की क्षमता केवल 14 लोगों की थी लेकिन उसमें 27 लोग बैठे हुए थे।

इस मामले पर बात करते हुए गुजरात के शिक्षा मंत्री कुबेर डिंडोर ने कहा कि उन्हें पता चला कि नौका में निर्धारित संख्या से अधिक लोग सवार थे, उन्होंने जांच के आदेश दे दिए हैं. डिंडोर ने कहा, ‘‘मुझे यह भी पता चला है कि दुर्घटना के समय छात्रों ने लाइफ जैकेट नहीं पहन रखी थी. हम (इन गलतियों के लिए) दोषी पाए जाने वालों के खिलाफ कार्रवाई करेंगे.”

मुख्यमंत्री ने किया घटनास्थल का दौरा

गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेन्द्र पटेल ने देर शाम को घटनास्थल का दौरा किया। उन्होंने सांघवी के साथ जानवी हॉस्पिटल और सरकारी एसएसजी हॉस्पिटल का दौरा किया जहां उन्होंने जीवित बचे बच्चों से उनका हाल जाना और वह मृत बच्चों के परिजनों से भी मिले और उन्हें हर संभव मदद का वादा किया।

प्रधानमंत्री ने भी जताया दुःख

प्रधानमंत्री ने कहा “वडोदरा की हरनी झील में नाव पलटने से हुई जनहानि से व्यथित हूँ। दुख की इस घड़ी में मेरी संवेदनाएं शोक संतप्त परिवारों के साथ हैं. घायल शीघ्र स्वस्थ हों. स्थानीय प्रशासन प्रभावित लोगों को हर संभव सहायता प्रदान कर रहा है. इसके साथ ही PMO ने ऐलान किया कि, प्रत्येक मृतक के परिजनों को PMNRF से 2 लाख रुपये दिए जाएंगे, वहीं घायलों को 50,000 रुपये दिए जाएंगे.”

गुजरात सरकार ने भी आर्थिक सहायता की घोषणा की है। सरकार ने मृतकों के परिजनों को 4 लाख तथा घायलों को 50 हजार रूपए देने का ऐलान किया है।

कलेक्टर करेंगे आगे की जांच

इस घटना को लेकर सरकार काफी नाराज़ दिख रही है उन्होने इसकी जांच का जिम्मा कलेक्टर को दिया गया है। तथा इस घटना के दोषियों को जल्द ही गिरफ्तार किया जाना चाहिए और इनपर उचित कार्यवाही होनी चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *